शेर-ओ-शायरी

<< Previous  बेरुखी  (Irresponsiveness)  Next >>

उधर वह बदगुमानी है, इधर यह नातवानी है
न पूछा जाये है उससे, न बोला जाये है हमसे।

-मिर्जा 'गालिब'


1.बदगुमानी - किसी की ओर से बुरा खयाल, कुधारणा

2. नातवानी - शक्तिहीनता, निर्बलता, कमजोरी
 

*****


उम्मीद तो बँध जाती, तस्कीन तो हो जाती,
वादा न वफा करते, वादा तो किया होता।


1.तस्कीन -(i) संतोष, इत्मीनान (ii) सान्त्वना, ढाढ़स, दिलासा

 2.वफा - निर्वाह, निबाह, प्रतिज्ञा पालन

 

*****


ऐ चश्मे – यार, न तगाफुल, न इल्तिफात,
क्या मैं किसी सुलूक के काबिल नहीं रहा।
-अब्दुल हमी अदम


1.चश्मे–यार– यार, प्रेमी, प्रेमिका 2.तगाफुल - उपेक्षा, बेपर्वाई, अनदेखी 3.इल्तिफात - (i) तवज्जुह, प्रणय-कटाक्ष लगाव, प्रवृति (ii) दया, कृपा

 

*****

ऐ हासिले-खुलूस बता क्या जवाब दूँ,
दुनिया यह पूछती है कि मैं क्यों उदास हूँ।
-नाजिश प्रतापगढ़ी


1.हासिले-खुलूस - मुहब्बत का निचोड़
 

*****

 

<< Previous   page -1-2-3-4-5-6-7-8-9-10-11-12-13-14-15-16-17-18-19-20-21-22-23  Next >>