शेर-ओ-शायरी

<< Previous  दिल  (Heart)

हमने कांटों को भी नरमी से छुआ है लेकिन,
लोग बेदर्द हैं फूलों को मसल देते हैं।

 

*****


हुस्ने-फरोगे-शमए-सुखन दूर है 'असद',
पहले दिले-गुदाख्ता पैदा करें कोई।
-मिर्जा गालिब


1.हुस्ने-फरोगे-शमए-सुखन- शाइरी या कविता की शम्अ की रोशनी का सौन्दर्य 2.दिले-गुदाख्ता- पिघलने वाला या द्रवणशील यानी संवेदनशील दिल

 

*****

 

<< Previous  page - 1 - 2 - 3 - 4 - 5 - 6 - 7 - 8 - 9 - 10