शेर-ओ-शायरी

<< Previous मुस्कान  ( Smile )  Next >>

     कई बिजलियाँ बेगिरे गिर पड़ी हैं,
उन आंखों को अब आ गया मुस्कराना।

-'फिराक' गोरखपुरी
  

*****

 

क्या मुस्तकिल इलाज किया दिल के दर्द का,
वह मुस्कुरा दिये मुझे बीमार देखकर।
-अब्दुल हमीद अदम


1.मुस्तकिल - पक्का, चिरस्थाई, पाइदार

 

*****

जब बहारों ने पाया कोई भी अपना मुकाम,
तेरे होठों के तबस्सुम से लिपट कर सो गईं

- नरेश कुमार 'शाद'


1.तबस्सुम - मुस्कान, कुस्कुराहट, स्मित, मंदहास

 

*****


जिस तरह से आप मुस्कुराए है,
ऐसे कोई कली नहीं खिलती।
-मुनव्वर लखनवी
 

*****

      

<< Previous  page - 1 - 2 - 3 - 4 - 5 - 6  Next >>