शेर-ओ-शायरी

  ज़ाहिद  Next >>

आशिकी से मिलेगा ऐ जाहिद,
बंदगी से खुदा नहीं मिलता।

-दाग


1.जाहिद - संयमी, विषय-विरक्त, संयम-नियम और जप-तप करने वाला व्यक्ति, 2.बंदगी - पूजा, इबादत

 

*****


ऐ हजरते-नासेह, हमें इल्जाम न दीजे,
इस उम्र में कुछ आप भी नादान रहे हैं।

-'कतील' शिफाई


1.हजरत - किसी बड़े व्यक्ति के नाम से पहले सम्मानार्थ लगाया जाने वाला शब्द,कोई प्रतिष्ठित और पूज्य व्यक्ति
2.नासेह - नसीहत करने वाला,सदुपदेशक,साहित्यिक परिभाषा में प्रेम-त्याग का उपदेश करने वाला
 

*****

कहते हैं उन्हीं को दुश्मने-दिल, है नाम उन्हीं का नासेह भी,
वे लोग जो रह कर साहिल पर, तूफान की बातें करते हैं।

1.नासेह - नसीहतदेनेवाला, सदुपदेशक,साहित्यिक परिभाषा में प्रेम त्याग का उपदेश करने वाला 2.साहिल - किनारा, तट

 

*****

गर किया नासेह ने हमको कैद, अच्छा यूँ सही,
पर जुनूने - इश्क के अंदाज छूट जायेंगे क्या?
-मिर्जा गालिब


1.नासेह - नसीहतदेनेवाला, सदुपदेशक,साहित्यिक परिभाषा में प्रेम त्याग का उपदेश करने वाला


*****

                 

    page - 1 - 2 - 3 - 4 - 5   Next >>