शेर-ओ-शायरी

<< Previous  जिंदादिली (A tendency of mind to remain happy in all situations) Next>>

हमारा जाम खाली है तो कोई बात नहीं,
यह एतबार तो है कि मैकदा हमारा है।


1.मैकदा - शराबखाना, मदिरालय


*****


हर इक दागे-तमन्ना को कलेजे से लगाता हूँ,
कि घर आई हुई दौलत को ठुकराया नहीं जाता।

-'मख्मूर' देहलवी


1.दागे-तमन्ना - नाकामयाबी, असफलता, तमन्नाओं के पूरा न

होने के निशान

 

*****

हर कली मुस्करा के गुलशन में,
गमजदों की हँसी उड़ाती है।

-एहसनी


1.गमजदा - संतप्त, दुखित, रंजीदा, शोकाग्रस्त, मातमदार


*****
हर मुसीबत का दिया, इक तबस्सुम से जवाब,
इस तरह से गर्दिशे-दौरां को रूलाया मैंने।


1. तबस्सुम- मुस्कान, मुस्कुराह 2. गर्दिशे-दौरां को- सांसारिक मुसीबतों को


 *****

 

 

<< Previous    page - 1-2-3-4-5-6-7-8-9-10 -11-12-13-14-15-16-17-18-19-20-21-22-23-24-25-26-27-28-29-30-31-32-33-34-35-36-37-38-39-40-41-42-43-44-45-46   Next>>