शेर-ओ-शायरी

अमरनाथ साहिर  (Amarnath Sahir)

दिल से अर्जां नहीं दुनिया में कोई शै 'साहिर',
 
बेदिली मगर हमने, इससे भी सस्ती देखी।

 1.
अर्जां - सस्ता, कम दामों का 2.शै चीज 3. बेदिली - उदासीनता
 

*****